20- 20 परीक्षा

बड़ा ही धमाकेदार लतीफ़ा :
एक बार एक स्कूल मास्टर ने अपनी क्लास के बच्चों से पूछा-
"बच्चों, जिस तरह आज 20-20 क्रिकेट आने से क्रिकेट का मज़ा बढ़ गया,
उसी तरह अगर तुम्हारी परीक्षाओं का तरीक़ा भी बदल दिया जाए तो किस तरह इन परीक्षाओं को ज़्यादा से ज़्यादा रोमांचक बनाया जा सकता है ?"
सारे बच्चे चुप ।
किसी को कोई जवाब नहीं सूझा ।
जब काफ़ी देर तक कोई नहीं बोला तो पप्पू इस सवाल का जवाब देने के लिए खड़ा हो गया।
मास्टर जी उसके ख़ुराफ़ाती दिमाग़ को जानते थे।
एक बार तो उन्होंने आंखें तरेरीं और न चाहते हुए भी बोले - "अच्छा जल्दी से बताओ क्या सुझाव देना चाहते हो ?"
पप्पू गम्भीर होकर बोला- "मास्टरजी हमारा पेपर एक घंटा 20 मिनट का होना चाहिए ।"
मास्टरजी- "और क्या कहना चाहते हो ?"
पप्पू- "हर बीस मिनट के बाद छात्रों को आपस में बातें करने के लिए दो मिनट का "स्ट्रेटेजिक टाइम आउट" मिलना चाहिए ।"
मास्टरजी- "और बोलो ?"
पप्पू - "बच्चों को परीक्षा के दौरान एक "free hit" भी मिलनी चाहिए, जिसमें बच्चे किसी भी एक सवाल का उत्तर अपनी मर्ज़ी से लिख सकें ।"
मास्टरजी- "और ? "
पप्पू- "पहले 20 मिनट में "पॉवर प्ले" होना चाहिए जिसमें ड्यूटी वाला मास्टर कमरे से बाहर रहे ।
मास्टरजी- "बहुत अच्छे ! और क्या चाहते हो ?"
पप्पू- "और हर 20 मिनट बाद "चीयर लीडर्स" कमरे में आकर 02 मिनट तक डान्स प्रस्तुत करें !!!!"
.
.
.
यह सुनते ही मास्टरजी बेहोश हो गए....
पर
क्लास के सभी बच्चों ने पप्पू को कंधों पर बैठा लिया और नाचने लगे । ;-) :-D :-D

0 Comments:

Post a Comment

If you have any doubts, Please let me know